मनोरंजन

‘खुदा हाफिज चैप्टर 2’ के मेकर्स ने शिया समुदाय से गाने ‘हक़ हुसैन’ लेकर मांगी माफ़ी

 'खुदा हाफिज चैप्टर 2 – अग्नि परीक्षा' (Khuda Haafiz: Chapter II – Agni Pariksha) के विवादित गाने 'हक हुसैन' को लेकर फिल्म के मेकर्स ने शिया समुदाय से माफ़ी मांग ली है। आरोप था कि गाने के बोलों के कारण उनकी धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची है।

मेकर्स ने एक स्टेटमेंट जारी किया है, जिसमें उन्होंने कहा है, "हम 'खुदा हाफिज चैप्टर 2 अग्नि परीक्षा' के निर्माता शिया समुदाय के सदस्यों द्वारा व्यक्त की गई चिंताओं पर संज्ञान लेते हैं और इस बात के लिए ईमानदारी से माफी मांगते हैं कि 'हक हुसैन' गाने के कुछ एलेमेंट्स ने अनजाने में उनकी भावनाओं को आहत किया है। समुदाय के कुछ सदस्यों ने 'हुसैन' शब्द और जंजीर के इस्तेमाल पर आपत्ति जताई थी।"

उन्होंने स्टेटमेंट में आगे लिखा है, "हमने अपनी ओर से गाने में बदलाव करने का फैसला किया है। सीबीएफसी सेंसर बोर्ड के साथ हुए विचार विमर्श के बाद हमने गाने से जंजीर ब्लेड हटा दिए हैं और हमने 'हक हुसैन' गाने के बोल को 'जुनून है' में बदल दिया है।"

मेकर्स ने स्टेटमेंट में कहा है कि उन्होंने शिया समुदाय के किसी सदस्य की गलत छवि नहीं दिखाई है और न ही फिल्म में शिया समुदाय के किसी सदस्य को हमला करते हुए दिखाया गया है। उन्होंने कहा है, "यह सॉन्ग हमने इमाम हुसैन की महिमा को सेलिब्रेट करने के पाक इरादे से बनाया था। हमारा उद्देश्य कभी किसी की भावनाओं को आहत करना नहीं था। बहरहाल, अपने स्वेच्छा से शिया समुदाय की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए गाने में बदलाव किए हैं।"

'खुदा हाफिज चोप्टर 2 : अग्नि परिक्षा' की कहानी फारुक कबीर ने लिखी है और वे ही इस फिल्म के निर्देशक भी हैं। फिल्म का निर्माण कुमार मंगत पाठक, अभिषेक पाठक, स्नेहा बिमल पारेख, राम मीरचंदानी ने किया है और इसका संगीर मिथुन और विशाल मिश्रा ने दिया है। फिल्म में विद्युत् जामवाल और शिवालिका ओबेरॉय की मुख्य भूमिका है। फिल्म 8 जुलाई को सिनेमाघरों में रिलीज होगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button